59 वर्ष के हुये संजय दत्त

मनोरंजन

मुंबई. बॉलीवुड में संजय दत्त का नाम उन गिने चुनेअभिनेताओं में शुमार किया जाता है जिन्होंने लगभग तीन दशक से अपने दमदार अभिनय से दर्शकों के दिल में आज भी एक ख़ास मुकाम बना रखा है. संजय दत्त को फिल्म इंडस्ट्री में आये लगभग तीन दशक बीत चुके है लेकिन इसके बाद भी वह हर फिल्म से अभिनय के नये शिखर को छूते जा रहे है और काम के प्रति उनका समर्पण बरकरार है. संजय दत्त अपनी हर नयी फिल्म को अपनी पहली फिल्म मानते है. इसी कारण वह अपने काम के प्रति लापरवाह नहीं होते और यही वजह है कि उनकी मांग आज भी बरकरार है.

मुंबई में 29 जुलाई 1959 को जन्में संजय दत्त को अभिनय की कला विरासत में मिली. उनके पिता सुनील दत्त अभिनेता और मां नरगिस जानी मानी फिल्म अभिनेत्री थी. घर में फिल्मी माहौल रहने के कारण संजय दत्त अक्सर अपनी माता-पिता के साथ शूटिंग देखने जाया करते थे. इस वजह से उनका भी रूझान फिल्मों की ओर हो गया और वह भी अभिनेता बनने के ख्वाब देखने लगी. संजय दत्त ने बतौर बाल कलाकार अपने सिने करियर की शुरूआत अपने पिता के बैनर तले बनी फिल्म रेशमा और शेरा . से की. बतौर अभिनेता उन्होंने अपने करियर की शुरूआत वर्ष 1981 में प्रदर्शित फिल्म ‘रॉकी’ से की. दमदार निर्देशन, पटकथा और गीत-संगीत के कारण फिल्म टिकट खिड़की पर सुपरहिट साबित हुयी